यौन उत्पीड़न की शिकार महिला IAS की फेसबुक पोस्ट सोशल मीडिया में वायरल




मध्य प्रदेश में एक महिला आईएएस अधिकारी रिजु बाफना का फेसबुक स्टेट्स वायरल हो गया हैं। इस युवा महिला आईएएस अधिकारी ने अपने फेसबुक स्टेट्स में लिखा है कि मैं केवल यही दुआ कर सकती हूं कि इस देश में कोई महिला जन्म न ले। स्टेट्स के वायरल होने के चंद घंटों बाद ही ट्रेनी अधिकारी ने नई पोस्ट के जरिए खेद जताया।

सिवनी में पदस्थ रिजु बाफना ने मानवाधिकार आयोग से जुड़े एक मित्र के खिलाफ अश्लील मैसेज भेजने की शिकायत दर्ज कराई थी। इस शिकायत के आधार पर पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार भी किया था। स्थानीय कलेक्टर भरत यादव ने भी आरोपी को पद से हटाने के लिए पहल की थी। इसी मामले में अदालत में अपने बयान दर्ज करने पहुंची रिजु बाफना ने अपने अनुभव को फेसबुक के जरिए शेयर किया।

फेसबुक पोस्ट में रिजु बाफना ने लिखा, 'जब अपना बयान दर्ज कराने मैं अदालत पहुंची तो कक्ष में एक वकील और कुछ अन्य लोग भी मौजूद थे। इतने लोगों के सामने बयान देने को लेकर मैं असहज महसूस कर रही थी। मैंने मजिस्ट्रेट से सभी के वहां से जाने की गुजारिश की। मजिस्ट्रेट मेरी बात पर कुछ कहते इसके पहले कक्ष में मौजूद वकील ने चिल्लाते हुए कहा, 'आप अपने ऑफिस में ऑफिसर होंगी, अदालत में नहीं।'

मैंने कहा कि मैं आईएएस अधिकारी होने की वजह से नहीं, एक महिला होने के नाते से यह मांग कर रही हूं। वे बहस करते हुए आखिर चले गए। मैंने माननीय मजिस्ट्रेट से भी निवेदन किया कि उन्हें ध्यान रखना चाहिए कि यौन उत्पीड़न के मामले में जब कोई महिला अपना बयान दे रही हो, तो वहां दूसरे लोग मौजूद ना हों। इस पर जज ने कहा कि आप युवा हैं और इसी वजह से ऐसी मांग कर रही हैं।

मैं मजबूर थी। इस वजह से बयान दर्ज करा दिया। मुझे जो अनुभव हुआ है उससे लगता है कि एक बार फिर मेरे साथ उत्पीड़न हुआ। महिला आईएएस अधिकारी ने अंत में लिखा, ''मैं बस यही दुआ कर सकती हूं कि इस देश में कोई महिला ना जन्में. यहां हर कदम पर उल्लू बैठे हैं...।'
SOURCE - HINDUSTAN

M1

CLICK HERE